मेनू

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि

05/04/2019 - वशीकरण यन्त्र
वशीकरण ताबीज बनाने की विधि

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि, जब हम निरंतर प्रयास करके थक जाते हैं और अपने जीवन के खुशियों को पाने के लिए दर-दर भटकते रहते हैं। तब हम खींझ जाते हैं अपने आप से शिकायतें करने लगते हैं कि हमारे भाग्य में कभी कुछ अच्छा लिखा ही नहीं है। सिर्फ कष्ट कष्ट और केबल कष्ट लिखा है हमारे जीवन में ऐसा ही हम सोचने लगते हैं।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि

मगर सिर्फ अपने भाग्य को दोष देने से नहीं होगा। अगर आप अपने भाग्य में दोष ढूंढने लगेंगे तो आप जीवन को कैसे जीयेंगे। यह जीवन आपका है इसको बेहतर बनाने की जिम्मेदारी आपकी है। यदि आपके द्वारा किए गए प्रयासों में बार-बार त्रुटियां आ रही है बाधा आ रहा है तो आपको उसका निवारण भी करना होगा और निवारण के लिए बहुत सारे उपाय हैं उन्हीं में से एक है वशीकरण।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

 वशीकरण के बहुत सारे उपाय होते हैं जैसे—टोटका, कुछ मंत्र पढ़कर आप आसानी से वशीकरण कर सकते हैं। अपने भाग्य को आपके मार्ग में आने वाले उन लोगों के ऊपर आप वशीकरण कर सकते हैं जो आपके जीवन में बाधक बनते हैं। ऐसा ही वशीकरण की शक्ति में ताकत होती है।

आज हम जिस वशीकरण के विषय में आपको बताने जा रहे हैं वह है वशीकरण ताबीज जिसको आप अपने शरीर में पहन कर या धारण कर अपने सभी समस्या पर काबू पा सकते हैं एवं अपने भाग्य को निर्धारित कर सकते हैं उस पर वशीकरण पा सकते हैं।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

यदि आप वशीकरण ताबीज को धारण करते हैं तो आप अपनी जिंदगी में जिन- जिन बातों से निराश हैं। वह सभी निराशाएं खत्म हो जाएगी जैसे कि आप निरंतर प्रयास कर रहे थे अपने जीवन में प्रसिद्धि पाने के लिए मगर प्रसिद्धि प्राप्त नहीं कर पा रहे थे। बहुत सारी बाधाएं मार्ग में आ रही थी।

वशीकरण ताबीज के धारण करने के बाद आपकी सारी बाधाएं दूर हो जाएगी और आप जो भी प्रयास कर रहे थे उन सभी प्रयासों को वापस करने पर आपको सफलता अवश्य मिलेगी वशीकरण ताबीज धारण करने के बाद।

अगर आप प्रमोशन पाने के लिए बहुत सालों से मेहनत कर रहे थे मगर फिर भी आपको प्रमोशन नहीं मिल रहा था। आप के बॉस के कारण या फिर अन्य किसी कारणों के कारण तो वशीकरण ताबीज धारण कर लिजिए क्योंकि ताबीज में बहुत शक्ति होती है जो किसी और दवाइ या दारू में नहीं होती है।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

 यदि आपका बच्चा निरंतर बीमार रहता है या हमेशा गिर जाता है उसे चोट लग जाती अनावश्यक रक्तपात हो जाता है उसके शरीर से तो आप अपने बच्चे को भी वशीकरण का ताबीज पहना सकते हैं कहा जाता है कि ताबीज पहनाने से बच्चों को बुरी नजर नहीं लगती है। वह रोग व्याधियों से बच जाते हैं अगर उनके पास ताबीज हो तो।

इसके अलावा यदि आपके विवाह संबंध में आपसी मेल मोटाव हो रहा है। आपका पति या फिर आपकी पत्नी आपसे हर रोज लड़ाई कर रही है ऐसे में या तो आप खुद एक ताबीज धारण कर ले या फिर अपनी पत्नी को ही ताबीज बनवाकर दे जिससे कि आपके वैवाहिक संबंध में कोई झगड़ा ना हो कोई परेशानी ना हो और आप दोनों ही सुखी तरीके से अपने जीवन को यापन कर सके।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

जिंदगी में बहुत लोग बचपन से सपने देखते आए हैं सरकारी नौकरी पाने का मगर काफी हद तक प्रयास करने के बाद भी वह सरकारी नौकरी नहीं पाते हैं और निराश होकर एक कोने में फूट-फूटकर रोने लगते हैं मगर हम आपको बता दें अब आप के रोने के दिन चले गए हैं क्योंकि वशीकरण ताबीज आ चुका है बाजार में जिस को धारण करके आराम से सरकारी नौकरी के लिए पढ़ाई करके परीक्षा देकर सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इसलिए अब अपने आंसू पोछिएं और वशीकरण ताबीज को धारण कीजिए।

अब आप सोच रहे होंगे कि यह वशीकरण का ताबीज कहां मिलेगा आप कहां से इस वशीकरण ताबीज को खरीदेंगे तो हम आपको बता दें वशीकरण के ताबीज आपको किसी भी दरगाह में मौजूद काजी साहब से ताबीज मिल सकता है या फिर आप खुद अपने हाथों से बना सकते हैं। उसके लिए आपको कुछ मंत्र को लिखना पड़ेगा और वह मंत्र हम आपको बताने जा रहे हैं जिससे आप स्वयं अपने हाथों से ताबीज बनाकर धारण कर सकते हैं।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

 यह मंत्र है:–

शृणु देवि प्रवक्ष्यामि, कुञ्जिकास्तोत्रमुत्तमम्

येन मन्त्रप्रभावेण चण्डीजापः शुभो भवेत

न कवचं नार्गलास्तोत्रं कीलकं न रहस्यकम्

न सूक्तं नापि ध्यानं च न न्यासो न च वार्चनम्

कुञ्जिकापाठमात्रेण दुर्गापाठफलं लभेत्

अति गुह्यतरं देवि देवानामपि दुर्लभम्

गोपनीयं प्रयत्‍‌नेन स्वयोनिरिव पार्वति

मारणं मोहनं वश्यं स्तम्भनोच्चाटनादिकम्

पाठमात्रेण संसिद्ध्येत् कुञ्जिकास्तोत्रमुत्तमम्

अथ मंत्र:-

ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे

ओम ग्लौं हुं क्लीं जूं सः ज्वालय ज्वालय ज्वल ज्वल प्रज्वल प्रज्वल

ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे ज्वल हं सं लं क्षं फट् स्वाहाः

इति मन्त्रह

नमस्ते रूद्ररूपिण्यै नमस्ते मधुमर्दिनिः I

नमह कैटभहारिण्यै नमस्ते महिषार्दिनि II

नमस्ते शुम्भ-हन्त्र्यै च निशुम्भासुरघातिनि I

जाग्रतम हि महादेवि जपं सिद्धम कुरूष्व मे II

ऐंकारी सृष्टिरूपायै ह्रींकारी प्रति-पालिका I

क्लींकारी कामरूपिण्यै बीजरूपे नमोऽस्तु ते II

चामुण्डा चण्डघाती च यैकारी वरदायिनी I

विच्चे चाभयदा नित्यं नमस्ते मन्त्ररूपिणि II

धां धीं धूं धूर्जटेः पत्‍‌नी वां वीं वूं वागधीश्‍वरी

क्रां क्रीं क्रूं कालिका देवि शां शीं शूं मे शुभं कुरु

हुं हुं हुंकार-रूपिण्यै जं जं जं जम्भनादिनी

भ्रां भ्रीं भ्रूं भैरवी भद्रे भवान्यै ते नमो नमः

अं कं चं टं तं पं यं शं वीं दुं ऐं वीं हं क्षं

धिजाग्रं-धिजाग्रं त्रोटय त्रोटय दीप्तं कुरु-कुरु स्वाहा

पां पीं पूं पार्वती पूर्णा खां खीं खूं खेचरी तथा

सां सीं सूं सप्तशती देव्या मन्त्र-सिद्धिं कुरुष्व मे

इदं तु कुञ्जिकास्तोत्रं मन्त्रजागर्तिहेतवे I

अभक्ते नैव दातव्यं गोपितं रक्ष पार्वति II

यस्तु कुञ्जिकाया देवि हीनां सप्तशतीं पठेत् I

न तस्य जायते सिद्धिररण्ये रोदनं यथा II

इति श्रीरुद्रयमले गौरी-तन्त्रे शिव-पार्वतीसंवादे कुञ्जिकास्तोत्रं सम्पूर्णम “

 इस पूरे मंत्र को आपको किसी भी पूर्णिमा या अमावस्या की सुबह को नहा धोकर एक सफेद कागज के ऊपर लाल स्याही से लिखना होगा एवं पढ़ना भी होगा। उस कागज को अच्छे तरीके से फोल्ड करके आपको एक खोके में बंद करना होगा और फिर उसको धारण करना होगा या फिर आप उस व्यक्ति को वह ताबीज पहना सकते जिसको आप पहनाना चाहते हैं।

वशीकरण ताबीज बनाने की विधि जानकारी कैसे बनाएं कैसे बनाया जाता है

एक बात और जब भी आप ताबीज धारण करें तो आप इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि आपने जो ताबीज धारण किया है उसके विषय में आप किसी को भी ना बताएं अगर आप बताते हैं अपने ताबीज़ के विषय में किसी को भी तो आप के ताबीज का प्रभाव कम हो जाएगा और जिस भी विषय के लिए आपने ताबीज को धारण किया है उस विषय में, उस क्षेत्र में आपको सफलता कतई नहीं मिलेगी

और फिर से आपके जीवन में निराशा छा जाएगा। इसलिए यदि आप अपने जीवन में सफलता पाना चाहते हैं भूल कर भी अपने ताबीज धारण करने की बात को किसी को भी ना बतलाए इससे आपके ताबीज का प्रभाव बना रहेगा और आप जो भी प्रयास कर रहे हैं उन प्रयासों में आपको सफलता अवश्य मिलेगी।

भूत प्रेत बाधा से बचने के उपाय

[Total: 1    Average: 5/5]
WhatsApp WhatsApp us